योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट बैठक मे किया कर्ज माफ़

0
95
The Financial Express

योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट बैठक मे किया कर्ज माफ़

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार की पहली कैबिनेट बैठक हुई। प्रदेश सरकार ने गेहूं की फसल पर अहम फैसले लिए हैं। 7 हजार गेहूं खरीद केंद्र बनाए जाएंगे। 80 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जाएगा। ये दो चरणों में होगा। ज्ञातव्य है कि योगी सरकार ने 19 मार्च को शपथ ली थी। सरकार बनने के 15 दिन बाद ये पहली बैठक हुई।

सरकार की तरफ से मंत्री और प्रवता श्रीकांत शर्मा ने प्रेस ‘कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा, सरकार ने गेहूं की बंपर फसल पर अहम फैसले लिए हैं। 7 हजार गेहूं खरीद केंद्र बनाए गए हैं। 80 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जाएगा। दो चरणों में ये होगा। 1625 रुपए समर्थन मूल्य होगा। हर किंटल पर 10 रुपए दुलाई ‘या लदाई अलग से दिए जाएंगे। पैसा अकाउंट में जाएगा।

उप्र सरकार ने कहा कि बिचौलियों से किसानों को राहत “दिलाने के लिए और खरीद केंद्र पर किसानों का किसी तरह से उत्पीड़न न हो इस दिशा में सरकार ने काम किया है। आलू की ‘पैदावार करने वालों किसानों को सरकार राहत देगी। । भाजपा नेता श्रीकांत शर्मा ने कहा, हमारी सरकार से पहले ‘महिलाओं में असुरक्षा की भावना थी, स्कूल जाने वाली लड़कियों को परेशान किए जाने की शिकायतें मिलती थीं

लेकिन महिलाओं की सुरक्षा के लिए हमारा एंटी-रोमियो दस्ता अच्छा “काम कर रहा है। थाने स्तर पर गठित एंटी रोमियो दस्ता का उद्देश्य निर्दोष लोगों को परेशान करना नहीं है।योगी सरकार ने कैबिनेट की बैठक में किसानों को बड़ी  फलहाल प्रदेश के 2.15 करोड़ किसानों का एक लाख रुपए कर्ज माफ होगा। राज्य में 2.15 करोड़ किसान हैं, जिसमें 1.85 | करोड़ सीमांत किसान है,

जबकि 30 लाख लघु किसान हैं। इन सभी का 1 लाख तक का कर्ज माफ होगा लघु किसान वे हैं जिनके पास 2 हेक्टेयर या 5 एकड़ से कम भूमि है।
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश ने योगी सरकार के इस फैसले को किसानों के साथ धोखा बताया है। उन्होंने ट्वीट किया, वादा पूर्ण क़ज़ माफ़ी का था, किसी सीमा का नहीं। एक लाख की सीमा से करोड़ों किसान ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

SHARE
Shivani Jain
शिवानी रोजगार रथ में रिपोर्ट है। शिवानी ने राजनीति, बिजनेस और अन्य न्यूज़ से संबंधित कई न्यूज़ लिखी है। उन्होंने वर्ष 2014 से रिपोर्टिंग शुरू की थी। दो साल के बाद शिवानी ने वर्ष 2016 से रोजगार रथ में काम करना शुरू किया।