यूनिवर्सिटी हॉस्टल के छात्रों ने संचालक और एक कर्मचारी के साथ की मारपीट

0
5
यूनिवर्सिटी हॉस्टल के छात्रों ने संचालक और एक कर्मचारी के साथ की मारपीट

गोरखपुर। रेलवे स्टेशन रोड स्थित न्यू मिर्च मसाला प्योर वेज रेस्टोरेंट पर यूनिवर्सिटी हॉस्टल के छात्रों ने संचालक और एक कर्मचारी से मारपीट और तोड़फोड़ की। आरोप है कि छात्रों के दल ने कैश काउंटर में रखा 26 सौ रूपया भी लूट लिया और असलहा लहराते एक दूसरे होटल पर भी पहुंचकर कर्मचारी से मारपीट की। ठेला, खोमचा वालों के साथ राहगीरों से बदसलूकी करते हीरापुरी कालोनी गेट पर इकट्ठा हो गये। पुलिस ने यहां से खदेड़ा तो छात्रावास परिसर में घुस गए। बाद में सहयोगी अन्य छात्रों के सहयोग से छात्रावास गेट पर सड़क जाम कर दिया। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर यहां से भी छात्रों को खदेड़ा। छात्र हिरासत में लिए गए अपने साथी छात्रों को छोड़े जाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि जिन दो छात्रों को पुलिस ने हिरासत में लिया है वह निदरेष हैं।

रेलवे स्टेशन के गेट संख्या पांच के सामने अध्यक्ष, रेलवे स्टेशन रोड व्यापार मंडल शमशाद उर्फ भोला का न्यू मिर्च मसाला प्योज वेज रेस्टोरेंट है। इसका संचालन आकाश श्रीवास्तव पुत्र विजय श्रीवास्तव निवासी गोरखनाथ थाना गोरखनाथ द्वारा किया जाता है। इस रेस्टोरेंट पर बतौर सहयोगी कर्मचारी महराजगंज में डॉयल 100 के प्रभारी प्रभु दयाल यादव का बेटा विकास यादव निवासी रूम नंबर दो, थाना गुलरिहा परिसर भी मौजूद था। शाम को 6.30 बजे के आसपास पांच की संख्या में युवक पहुंचे। उन्होंने खुद खाना खाया और अपने कुछ साथियों के लिए भी पैक कराया। रेस्टोरेंट संचालक के मुताबिक खाने का कुल बिल 1060 रूपया मांगे जाने पर 100 रूपया देकर जाने लगे। विरोध पर उन्होंने कहा कि वह गोरखपुर विविद्यालय छात्रावास के छात्र हैं और गालियां देने लगे। विरोध पर किसी को फोन किया और तकरीबन सौ की संख्या में छात्र उसकी दुकान पर पहुंचे और उसे तथा कर्मचारी को पीटकर घायल कर दिया। मौके पर पहुंचे अपाचे दस्ते के सिपाहियों से भी बदसलूकी की।

दुकानदारों ने मारपीट करने वाले तीन छात्रों को पकड़कर मौके पर पहुंची कैंट पुलिस के हवाले कर दिया। साथी छात्रों को छुड़ाने के लिए छात्रावासों के छात्र हीरापुरी कालोनी गेट पर सैकड़ों की संख्या में पहुंचकर हंगामा करने लगे। यहां इंस्पेक्टर कैंट रवि राय से बदसलूकी की। शाम साढ़े सात बजे सैकड़ों की संख्या में छात्रावासी छात्र एक बार फिर से सड़क पर उतरे। छात्रावास गेट के सामने गोरखपुर-देवरिया और कुशीनगर राजमार्ग को लोहे की बैरिके डिंग खड़ी कर जाम कर दिया और राहगीरों से बदसलूकी शुरू कर दी।

सूचना पर चीफ प्रॉक्टर सहित विविद्यालय और छात्रावास प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे लेकिन छात्रों ने किसी की नहीं सुनी। छात्रों का कहना था कि पुलिस ने दो निदरेष छात्रों को पकड़ा है, उन्हें छोड़े उसके बाद ही वह सड़क से हटेंगे। सीओ कैंट और इंस्पेक्टर कैंट की सूचना पर इस बीच एडीएम सिटी, सिटी मजिस्ट्रेट, एसपी सिटी, कैंट, गोरखनाथ और कोतवाली के सीओ, थानेदार मय फोर्स पहुंचे। पुलिस ने पहले हल्का बल प्रयोग कर छात्रों को सड़क से खदेड़कर जाम समाप्त कराया। बाद में छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल को आास्त किया कि जो निदरेष मिलेंगे, उनके खिलाफ कार्यवाही नहीं की जाएगी। एसपी सिटी विनय सिंह का कहना है कि अराजकता फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज से उत्पातियों की पहचान कराई जाएगी।