दिल्ली के जैतपुर इलाके में बंद कमरे में मिले दो महिलाओं के शव

0
8
murder

दिल्ली । जैतपुर इलाके में एक घर में दो महिलाओं की हत्या कर दी गई। दोनों महिलाओं के शव एक बंद कमरे में मिले, इनके हाथ पैर बंधे थे जबकि स्थानीय लोगों ने इस कमरे से उठ रही दुर्गंध के बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे के ताले को तोड़कर दोनों शव बाहर निकाले। शुरु आती जांच में दोनों ही महिलाओं की हत्या गला घोंटकर किए जाने की आशंका है।

हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले का खुलासा होगा। प्रारंभिक जांच के बाद पुलिस ने बताया कि इन महिलाओं के साथ रहने वाला एक शख्स और बच्चा गायब है। पुलिस को स्थानीय लोगों से जानकारी मिली है कि दोनों ही महिलाएं इस आदमी की पत्नी थी। फिलहाल पुलिस ने दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए एम्स भिजवा दिए हैं जबकि फरार आरोपी की तलाश में जुटी है।

इस बाबत हत्या समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि जैतपुर के सौरभ विहार सी ब्लॉक गली नंबर सात के एक कमरे को शमसेद आलम उर्फ जमशेद नाम के व्यक्ति ने लगभग दो महीने पहले किराए पर लिया था। शमशेद का पीओपी का काम है। स्थानीय लोगों ने बताया कि किराये का मकान लेते समय उसके साथ दो महिलाएं और एक दस साल का बच्चा भी साथ था।

शमसेद ने दोनों महिलाओं को अपनी पत्नी होने का दावा किया । इस बीच बृहस्पतिवार सुबह शमसेद के कमरे से आस पड़ोस के लोगों को तेज दुर्गंध महसूस हुई। वहां जाकर देखा गया तो रु म के बाहर ताला लगा था। मामले की जानकारी मकान मालिक को दी गई। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर प्रवेश की। स्थानीय लोगों ने बताया कि शमसेद को लोगों ने बुधवार दिन में साढे ग्यारह बजे आखिरी बार देखा था।

वह अपने बेटे के मौके से गया थ। इसके बाद से दोनों को किसी ने नहीं देखा। पुलिस ने बताया कि कमरे में दोनों महिलाओं के शव पड़े मिले जबकि इनके हाथ पैर बंधे हुए थे। इनका गला चुन्नी से घोंटा गया था। इन महिलाओं की उम्र करीब तीस से पत्तीस वर्ष के बीच बतायी गई है। अभी महिलाओं की पहचान कराने का प्रयास किया जा रहा है।

पुलिस को शक है दोनों ही हत्याएं इस कमरे में ही रहने वाले शख्स ने की हैं, जो अभी फरार है। आरोपी के पकड़ में आने के बाद पूरी तस्वीर साफ होगी कि वह दोनों महिलाओं का पति है, या नहीं। दोनों महिलाएं रिश्ते की बहनें बतायी जाती हैं लेकिन इसकी भी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की गई। संभव है कि वह इनमें एक महिला का ही पति हो।

फिलहाल पुलिस शमसेद का पता लगाने के लिए पुलिस की जांच मोबाइल टैक्नीकल सर्विलांस पर पूरी तरह से टिकी हुई है। गौरतलब है कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से रोज ही हत्याओं के मामले सामने आ रहे हैं। इससे पहले मोहन गार्डन, महरौली व वसंत विहार में नौ हत्याएं हो चुकी है और सभी मामलों में आरोपी को दबोचा जा चुका है।

शेयर करें
Avatar
रश्मी शाह रोजगार रथ में सहायक संपादक है। इससे पहले इन्होंने आजतक अखबार के लिए उप संपादक का काम किया है। हरीभूमी अख़बार में लेखन का काम भी किया है। रश्मी ने मीडिया प्रबंधन के क्षेत्र में दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री ली है।