ढाई महीने पहले हुई थी युवक की संदिग्ध मौत, परिजनों ने दोबारा करवाया पोस्टमार्टम

0
44
ढाई महीने पहले हुई थी युवक की संदिग्ध मौत, परिजनों ने दोबारा करवाया पोस्टमार्टम

नीमकाथाना | युवक की संदिग्ध मौत के मामले में नीमकाथाना के नीमोद में 31 जनवरी को मकराना (नागौर) डीएसपी की मौजूदगी में जमीन में दफन शव का मेडिकल बोर्ड से दूसरी बार पोस्टमार्टम होगा। कलेक्टर व एसपी से बातचीत के बाद एसडीएम जेपी गौड़ ने कानूनी राय कर मामले में समाधान निकाला।

मकराना डीएसपी को शव का पुन: परीक्षण कराने के लिए पत्र जारी किया गया है। चिकित्सा विभाग ने मेडिकल बोर्ड का गठन कर दिया है। जमीन में दफन शव को पुलिस की मौजूदगी में बुधवार को निकाला जाएगा। निमोद की ढ़ाणी डेरा निवासी कृष्ण कुमार पुत्र पूरणमल की संदिग्ध मौत के मामले में नागौर जिले की नावां पुलिस ने धारा 174 की कार्रवाई की थी।

परिजनों ने हत्या का संदेह जताते हुए रिपोर्ट दी थी। मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद निमोद में शव को धार्मिक रीति अनुसार दफना दिया था। कोर्ट के आदेश पर हत्या का प्रकरण दर्ज हुआ। नागौर एसपी ने प्रकरण में शव का पुन: परीक्षण कराने के लिए कलेक्टर व एसपी को पत्र भेजा था।

ये था मामला
निमोद की ढाणी डेरा निवासी कृष्ण कुमार योगी को आरोपी 12 नवंबर 2017 को गाड़ी से कामकाज के लिए नागौर के नावां शहर ले गए। कुछ दिनों बाद फोन पर सूचना मिली कि तबीयत बिगड़ने से उसकी मौत हो गई। गांव से 20-25 लोग नावां गए। वहां पुलिस कार्रवाई व मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव को निमोद में दफना दिया। पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो परिजनों ने कोर्ट में इस्तगासा दायर कर हत्या का प्रकरण दर्ज कराया। फिलहाल प्रकरण की जांच मकराना डीएसपी कर रहे हैं।

शेयर करें
Rajeshwari Tripathi
राजेश्वरी रोजगार रथ में पत्रकार के पद पर कार्यरत है। राजेश्वरी ने जनसंचार में स्नातक की पढाई की है। वह इससे पहले हरिभूमि समाचार पत्र के साथ-साथ अन्य स्थानीय समाचार प्रकाशन में काम किया है। अन्य समाचार पत्रों में काम करने के बाद राजेश्वरी वर्ष 2016 से रोजगार रथ में कार्यरत है।