इस साल 28 हजार फ्रेशर्स को नौकरी देगी TCS, तीन सालों का सबसे बड़ा आंकड़ा

0
5
इस साल 28 हजार फ्रेशर्स को नौकरी देगी TCS, तीन सालों का सबसे बड़ा आंकड़ा
इस साल 28 हजार फ्रेशर्स को नौकरी देगी TCS, तीन सालों का सबसे बड़ा आंकड़ा

नई दिल्ली | टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज इस साल कैंपस से लगभग 28 हजार स्टूडेंट्स को नौकरी देगी| कैंपस प्लेसमेंट का कंपनी का पिछले तीन सालों का यह सबसे बड़ा आंकड़ा होगा| बीते दो वर्षों में कंपनी ने हर साल लगभग 20 हजार फ्रेशर्स को नौकरी के मौके दिए हैं| मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी के ग्लोबल ह्यूमन रिसोर्सेज के हेड और एग्जिक्यूटिव वीपी अजय मुखर्जी ने कहा कि बिजनेस और ग्रोथ के लिहाज से हमें अच्छी मांग दिख रही है| इस साल की पहली छमाही में हम 16 हजार लोग भर्ती कर चुके हैं |

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सितंबर तिमाही में कंपनी में 10,227 नए कर्मचारी जुड़े| यह पिछली 12 तिमाही में सबसे बड़ी संख्या है| इस दौरान पुराने कर्मचारियों के नौकरी छोड़ने की दर 10.9 फीसद रही| इसे लेकर कंपनी के सीईओ राजेश गोपीनाथन ने बताया कि टैलेंट को अपने साथ बनाए रखने के मामले में कंपनी का स्टैंडर्ड काफी अच्छा है| कंपनी ने बताया कि सभी क्षेत्रों में ऑन साइट हायरिंग पॉजिटिव रही है| अजय मुखर्जी ने कहा कि हम मल्टी-लोकेशन टीम पर फोकस कर रहे हैं| टीसीएस ने लोकेशन को लेकर स्वतंत्र रणनीति अपनाई है |

कंपनी की अच्छी ग्रोथ की वजह बैंकिग, फाइनेंशियल सर्विसेज एंड इंश्योरेंस और रिटेल जैसे सेक्टरों में आए बदलाव को माना जा रहा है| कंपनी ने सितंबर तिमाही में अपने कर्मचारियों को 100 फीसद तिमाही वेरिएबल अलाउंस दिया है| बता दें कि टाटा ग्रुप की टीसीएस देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी है |

टीसीएस के खास स्किल वाले नए कर्मचारियों की सैलरी हुई दोगुनी

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने खास स्किल वाले नए कर्मचारियों को दोगुनी सैलरी दी है| टीसीएस ने डिजिटल स्किल वाले कर्मचारियों को करीब 6.5 लाख की सैलरी ऑफर की है| बता दें कि पिछले कई सालों से आईटी कंपनियों में भारतीय इंजीनियरों की शुरुआती सैलरी सालाना करीब 3.5 लाख पर स्थिर है| कंपनी ने आधुनिक स्किल पर महारत रखने वाले 1,000 फ्रेशर को यह सैलरी ऑफर की है| ये सभी नए जमाने की डिजिटल स्किल में महारत रखते हैं| इनका चुनाव भी नए स्किल के आधार पर की गई है |

शेयर करें
Rajeshwari Tripathi
राजेश्वरी रोजगार रथ में पत्रकार के पद पर कार्यरत है। राजेश्वरी ने जनसंचार में स्नातक की पढाई की है। वह इससे पहले हरिभूमि समाचार पत्र के साथ-साथ अन्य स्थानीय समाचार प्रकाशन में काम किया है। अन्य समाचार पत्रों में काम करने के बाद राजेश्वरी वर्ष 2016 से रोजगार रथ में कार्यरत है।