हंसराज हंस के शिक्षा व आय को लेकर जानकारी छुपाने पर चुनाव आयोग में शिकायत

0
17
हंसराज हंस के शिक्षा व आय को लेकर जानकारी छुपाने पर चुनाव आयोग में शिकायत

नई दिल्ली| उत्तर पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी राजेश लिलोठिया ने भाजपा प्रत्याशी हंसराज हंस के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज करवाई है कि उन्होंने चुनाव आयोग में जमा करवाए अपने हलफनामे में महत्वपूर्ण जानकारियां जानबूझ कर छुपाई हैं जो कानूनी रूप से गलत ही नहीं बल्कि चुनाव आयोग की दिशा-निर्देश का सीधा-सीधा उल्लंघन है।

आयोग को की गई शिकायत में उन्होंने बताया कि भाजपा प्रत्याशी हंसराज हंस ने राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के उप चेयरमैन के रूप में लाभ के पद पर रहते हुए उससे जो आय प्राप्त हुई उसे चुनाव आयोग से छुपाया है जो पूरी तरह गलत है इस पद के रहते उन्हें सरकारी आवास ईस्ट किदवई नगर में भी मिला हुआ था। उन्होंने ये भी शिकायत की है कि हंसराज हंस और उनकी धर्मपत्नी रेशम कौर के ऊपर तकरीबन 4.5 करोड़ का इनकम टैक्स का भुगतान नहीं किया है और इसके अलावा उनकी धर्मपत्नी ने पिछले 5 वर्षो से कोई इनकम टैक्स रिटर्न भी फाइल नहीं किया है जो इनकम टैक्स कानून का न सिर्फ उल्लंघन है बल्कि ये टैक्स चोरी का भी मामला है।

कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा कि 2009 में चुनाव लड़ते वक्त उन्होंने अपने हलफनामे में अपनी शैक्षणिक योग्यता का जिक्र निरक्षर के बराबर किया था अब वो अपने आप को दसवीं पास बता रहे हैं और दसवीं उन्होंने 1977-78 में की थी। सवाल ये उठता है कि 2009 में क्या उन्हें पता नहीं था कि वो दसवीं पास हैं। बता दें कि अभी हाल ही में विपक्षी दलों ने उनकी जाति प्रमाण पत्र और धर्म को लेकर न सिर्फ सवाल खड़े किए हैं बल्कि चुनाव आयोग में शिकायत के अलावा कोर्ट में भी याचिका दायर की है।

इन सबके अलावा लिलोठिया ने चुनाव आयोग के अलावा रोहिणी कोर्ट मे भी शिकायत व याचिका दायर कि है, जिसमे उन्होंने भाजपा प्रत्याशी द्वारा हलफनामे में छुपाई गई जानकारी के चलते हुए उनके नामांकन को निरस्त करने की अपील की है। आगामी 6 मई को रोहिणी कोर्ट मे इस पर सुनवाई होगी।

शेयर करें