डिप्रेशन में आई गर्भवती महिला की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

0
6
डिप्रेशन में आई गर्भवती महिला की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

महिला के परिजनों ने ससुराल वालों पर दहेज व मानसिक प्रताड़ना का लगाया आरोप पुलिस मामले की छानबीन में जुटी

नई दिल्ली। उत्तर पूर्वी जिला के गोकलपुरी इलाके में गर्भवती महिला की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई, फोन पर पति ने दिया था तलाक उसके बाद से पत्नी डिप्रेशन में थी। मृतक महिला शाहीन (26) के परिजनों ने उसके ससुराल पक्ष पर दहेज व मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस परिजनों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।जानकारी के मुताबिक शाहीन की 1 जुलाई, 2018 को पटवारी नगर अलीगढ़ में नफीस नामक शख्स से शादी हुई थी। उसका मायका मूंगा नगर गोकलपुरी में है। शाहीन के भाई इनाम अली का आरोप है कि शादी के 1 हफ्ते बाद से ही उसके ससुराल वाले उसे दहेज के लिए मानसिक व शारीरिक रूप से प्रताड़ित कर रहे थे। इसलिए शाहीन का परिवार शाहीन को लगभग 1 सप्ताह पहले मूंगा नगर ले आया था।

सोमवार को अचानक शाहीन की तबीयत खराब हो गई, शाहीन 9 हफ्ते की गर्भवती थी। परिजन उसे यमुना विहार स्थित अस्पताल में इलाज के लिए लेकर पहुंचे जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि शाहीन उसके पति ने फोन पर तलाक दे दिया था। उसके बाद से वह काफी डिप्रेशन में थी और अच्छे से खाना पीना भी नहीं खा रही थी। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस परिजनों द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच कर रही है।

शेयर करें
नियामत खान रोजगार रथ में संवाददाता के पद पर कार्यरत है। नियामत खान ने दिल्ली विश्वविद्यालय से पत्रकारिता के क्षेत्र में स्नातक की हासिल की है। नियामत खान को पत्रकारिता के क्षेत्र में काफी अच्छा अनुभव है। नियामत खान की लेखन, पत्रकारिता, संगीत सुनना में रुची है।