पीएम मोदी करेंगे वंदे भारत एक्सप्रेस का शुभारंभ, इस ट्रेन के खानपान का मेन्यू और रेट तय

0
24
पीएम मोदी करेंगे वंदे भारत एक्सप्रेस का शुभारंभ

नई दिल्ली। आखिरकार बहुप्रतीक्षित ट्रेन-18 (वंदे भारत एक्सप्रेस) के शुभारंभ का समय तय हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को वंदेभारत एक्सप्रेस यानी टी 18 ट्रेन का उद्घाटन करेंगे| संभवत: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 15 फरवरी को इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे। प्रधानमंत्री की इस यात्रा के दौरान उनके साथ भारतीय रेलवे के कुछ अधिकारी मौजूद रहेंगे| हालांकि अभी आधिकारिक रूप से रेल मंत्रालय की ओर से वंदे भारत एक्सप्रेस परिचालन की घोषणा नहीं की गई है। फिर भी रेल मंत्रालय ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। ट्रेन का किराया फाइनल होने के अंतिम चरण में है जबकि ट्रेन में यात्रियों को परोसे जाने वाले खानपान के मेन्यू और दर को तय कर दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री 15 फरवरी को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से ट्रेन 18 या वंदे भारत को हरी झंडी दिखाएंगे| भारत की पहली बिना इंजन वाली रेलगाड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली से वाराणसी के बीच चलेगी। आपको बता दे कि ट्रेन दिल्ली से चलेगी जिसके बाद इसका पहला स्टॉपेज कानपुर होगा. यहां प्रधानमंत्री एक जनसभा को संबोधित करेंगे|यहां ट्रेन 40 मिनट रुकने के बाद फिर इलाहाबाद के लिए चलेगी| इलाहाबाद में भी ट्रेन 40 मिनट रुकेगी| यहां भी प्रधानमंत्री एक जनसभा को संबोधित करेंगे| ट्रेन का किराया जल्द ही तय होजाएगा। हालांकि इससे पहले ही ट्रेन में यात्रियों को परोसे जाने वाले खानपान की दरें तय कर दी गई हैं।

यह दरें टिकट के किराए में ही शामिल होंगी। खानपान की दरें नई दिल्ली से वाराणसी के बीच एक्जीक्यूटिव क्लास में 399 रपए और चेयर कार क्लास में 344 रपए तय की गई हैं। इसमें नाश्ता, खाना और पानी की बोतल शामिल हैं। हालांकि कानपुर, इलाहाबाद आदि रास्ते के स्टॉपेज के अनुसार यात्रियों के लिए खानपान की दरें कम हैं। यह दूरी और ट्रेन में यात्रा समय को देखते हुए तैयार किया गया है। सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 19 फरवरी को वाराणसी में ही रहने की संभावना है। इस दौरान वे रेलवे के पहले परिवर्तित लोकोमोटिव -डीजल लोकोमोटिव को बदलकर इलेक्ट्रिक में किए जाने- का लोकार्पण करेंगे। परिवर्तित किए जाने से लोकोमोटिव की क्षमता 2600 हॉर्सपावर से बढ़कर 5000 हॉर्सपावर हो गई है। परियोजना पर काम 22 दिसम्बर 2017 से शुरू हुआ था और नए लोकोमोटिव को 28 फरवरी 2018 को रवाना किया गया था। वाराणसी में इसे परिवर्तित किए जाने में 69 दिन लगे। लोकोमोटिव की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वाराणसी में कर सकते हैं और यह लुधियाना तक की दूरी तय करेगा।

 

शेयर करें
Avatar
शिवानी रोजगार रथ में रिपोर्ट है। शिवानी ने राजनीति, बिजनेस और अन्य न्यूज़ से संबंधित कई न्यूज़ लिखी है। उन्होंने वर्ष 2014 से रिपोर्टिंग शुरू की थी। दो साल के बाद शिवानी ने वर्ष 2016 से रोजगार रथ में काम करना शुरू किया।