गौतम गंभीर ने मनीष सिसोदिया को भेजा मानहानि का नोटिस, भड़के सिसोदिया

0
23
गौतम गंभीर ने मनीष सिसोदिया को भेजा मानहानि का नोटिस, भड़के सिसोदिया

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली से भाजपा के उम्मीदवार और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पूर्वी दिल्ली की आम आदमी पार्टी प्रत्याशी आतिशी को मानहानि का नोटिस भेजा था| गौतम गंभीर द्वारा भेजे गए मानहानि के नोटिस के जवाब में मनीष ने ट्वीटर पर लिखा है कि गौतम गंभीर चोरी और सीनाजोरी?

इस घिनौनी हरकत के लिए तुम्हें माफी मांगनी चाहिए थी और डेफेमेशन की धमकी दे रहे हो? उल्टा चोर कोतवाल को डांटे? डेफेमेशन हम करेंगे, तेरी हिम्मत कैसे हुई यह पर्चा बांटने की और बेशर्मी से उसका झूठा इल्जाम सीएम पर लगाने की?उधर भाजपा प्रवक्ता हरीश खुराना ने ट्वीटर लिखा है कि हम जी जी करके बात कर रहे हैं मनीष जी और तुम अपनी मर्यादा भूल रहे हो।

यह तेरी हिम्मत क्या शब्दावली है? अपने सीएम के पदचिह्नों पर चलने शुरू हो गए हो? इतना काहे बौखला रहे हो भाई? पता है एक और दांव उल्टा पड़ गया है तो क्या हुआ एक और चुनाव हार जाओगे, भाषा की मर्यादा तो रखो। इससे पहले हरीश ने लिखा कि क्यों घबरा गए मनीष जी? कल तुम ही चिल्ला-चिल्लाकर कह रहे थे न प्रेस कांफ्रेंस में। गौतम गंभीर और भाजपा ने करवाया है तो अब हिम्मत है तो सबूत रखो। कौन से भाजपा नेता ने पच्रे बंटवाए या छपवाए या कहां छपे? एक और दांव उल्टा पड़ेगा पक्का। अभी दो दिन पहले भी पड़ा था।

 क्या है मामला

गुरुवार को आतिशी ने दावा किया था कि उनके प्रतिद्वंद्वी बीजेपी के गौतम गंभीर ने निर्वाचन क्षेत्र में ऐसे पर्चे बंटवाए हैं, जो आपत्तिजनक और अपमानजनक हैं| आतिशी ने कहा था, “मेरा गंभीर जी से बस एक यही सवाल है के अगर वो मेरे जैसी एक सशक्त महिला को हराने के लिए इतना गिर सकते हैं तो सांसद बनने के बाद वो अपने क्षेत्र की महिलाओं को कैसे सुरक्षित करेंगे|”

इस पर केजरीवाल ने कहा था, ‘कभी नहीं सोचा था कि गंभीर इतने नीचे तक गिर सकते हैं| महिलाएं कैसे सुरक्षित होने की उम्मीद कर सकती हैं अगर लोग इस मानसिकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं| आतिशी हौसला बनाए रखें| मैं समझ सकता हूं कि यह सब कुछ आपके लिए कितना मुश्किल है| इससे साफ हो गया है कि हम लोग कैसी शक्तियों के खिलाफ लड़ रहे हैं|