किसानो को आधार कार्ड होने पर ही मिलेगा खाद बीज

0
38

रायपुर | प्रदेश में इस वर्ष बारिश में किसानों की मुश्किलें ज्यादा होने वाली है किसानों को इस साल यूरिया तथा खाद की बोरी में 5 किलो कम तथा प्रत्येक बोरी पर 17 रुपए ज्यादा देने होंगे|

किसानों  के पास आधार कार्ड  होने पर ही खाद तथा बीज मिलेगा जिसकी वजह से किसानों को अधिक समय लग सकता है तथा बार बार चक्कर काटने पड़ सकते हैं सरकार की नई योजना तथा व्यवस्था की वजह से किसानों को यूरिया तथा खाद की जगह पर जी कोटेड यूरिया खाद मिलेगा|

बरसात की तैयारी में लगे किसान परेशान हो सकते हैं जी कोडेट यूरिया किसानों को कम मिलेगा तथा रुपए ज्यादा देने पड़ेंगे खाद का पैकेट पहले 50 किलो का था तथा जिसका मूल्य 298 रुपए परंतु इस बार किसानों को 5 किलो कम मिलेगा जिसका सरकारी मूल्य 285 रखा गया यूरिया 5 किलो कम होने से   मूल्य में भी कमी आना थी लेकिन 13 ज्यादा देने पड़ रहे हैं|

खाद लेने पर आधार कार्ड के साथ अंगूठा भी लगेगा

राज्य में किसानों को इस वर्ष बिना आधार कार्ड के खाद नहीं मिलेगा और आधार कार्ड के साथ अंगूठा भी लगाना पड़ेगा जिससे किसान की पूरा पता कंप्यूटर पर आ जाएगा यदि किसान के पास आधार कार्ड ना हो तो उसे परेशानी होगी

प्रदेश की नई व्यवस्था एक मुसीबत बन गई है जो किसान के लिए भी तथा दुकानदार के लिए भी हानिकारक  है बरसों से खाद किसानों को दे रहे थे इस वजह से आज दुकानदारभी खाद ज्यादा नहीं बेच पाएंगे

कृषि विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का असर किसानों पर ज्यादा पड़ सकता है

कृषि विभाग द्वारा बताया गया कि इसका लाभ बाद में किसानों को देखेगा तथा किसानों के लिए बरसात से पहले ही खाद वितरण किया जाएगा जिससे किसानों को अधिक लाभ हो सकेगा

 

शेयर करें
Mukesh Srivastava
मुकेश श्रीवास्तव रोजगार रथ में संपादक के पद पर कार्यरत है। रोजगार रथ में मुकेश खेल जगत से जुडी खबरे लिखते है। वह कई न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम कर चुके है। मुकेश ने अपनी पढाई NIT कॉलेज से पूरी की है। NIT से पढाई पूरी करने के बाद उन्होंने न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम करना शुरू किया।