दमोह में डेंगू के 7 मरीज मिले, सागर में स्वास्थ्य संचालनालय ने किया अलर्ट जारी

0
48

सागर | सागर जिले में बरसात बंद हो जाने के बाद डेंगू जैसी खतरनाक बीमारी शहर में फैलने लगी है स्वास्थ्य संचालनालय के द्वारा भी जिले में अलर्ट जारी किया | सागर के पास दमोह जिले में डेंगू के 7 मरीज शिकार हो चुके हैं | डेंगू के मरीज मिलने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग कोई भी कार्यवाही नहीं कर रहा है |

सागर जिले में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कोई भी सर्वे नहीं किया गया और ना कोई रैली निकालकर शहर के लोगों को जागरूक किया | स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी डेंगू के मरीज मिलने का इंतजार कर रहे हैं उसी के बाद जागरूकता अभियान चलाया जाएगा |

सागर जिले के जिला अस्पताल में मैकएलाइजा की जांच होगी लेकिन मरीजों को इलाज के लिए 2 साल बाद भी ब्लड सेपरेटर यूनिट की सुविधा शुरू नहीं हो सकी | डेंगू के इलाज के लिए मैकएलाइजा जांच होती है | सागर के जिला अस्पताल में डेंगू के इलाज के लिए मैकएलाइजा जांच करने की सुविधा है लेकिन डेंगू के मरीज के लिए ब्लड सेपरेटर यूनिट की सुविधा अभी तक प्रारंभ नहीं की गई | 2 साल से इस सुविधा को शुरू करने के लिए कवायदें की जा रही है |

जिला अस्पताल में ब्लड सेपरेटर यूनिट शुरू करने के लिए लाइसेंस मिल गया है लेकिन मशीनों के पार्ट्स में कमी होने के कारण ब्लड सेपरेटर यूनिट की शुरुआत नहीं हो सकी और शुभारंभ होने में समय लग सकता है | लाखों रुपए खर्च करने के बाद जिला अस्पताल में आई मशीन होने के कारण भी शहर के लोग भोपाल तथा जबलपुर में इलाज करवाने के लिए जाते हैं | डेंगू की जांच ना होने की वजह से मरीज मजबूरी में दूसरे शहर जा रहे हैं |

डेंगू एक प्रकार की खतरनाक बीमारी होती है जो मादा मच्छर के काटने से फैल जाता है | एडीज मच्छर पानी में भी अंडे देता है | पानी को पीने के लिए गरम करना ज्यादा जरूरी है क्योंकि पानी उबालने से सभी जीवाणु नष्ट हो जाते हैं | डेंगू हो जाने के बाद शरीर में तेज बुखार तथा पसलियों में भी दर्द होने लगता है और शरीर में लाल लाल रेशे भी दिखने लगते हैं |

SHARE
Mukesh Srivastava
मुकेश श्रीवास्तव रोजगार रथ में संपादक के पद पर कार्यरत है। रोजगार रथ में मुकेश खेल जगत से जुडी खबरे लिखते है। वह कई न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम कर चुके है। मुकेश ने अपनी पढाई NIT कॉलेज से पूरी की है। NIT से पढाई पूरी करने के बाद उन्होंने न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम करना शुरू किया।