मात्र 2400 रुपए लगाकर 3-4 महीनों में आप कमा लेंगे 5-6 लाख

0
23
मात्र 2400 रुपए लगाकर 3-4 महीनों में आप कमा लेंगे 5-6 लाख
मात्र 2400 रुपए लगाकर 3-4 महीनों में आप कमा लेंगे 5-6 लाख

नई दिल्ली | खेती को अगर बिजनेस मानकर किया जाए तो यह अधिकतम रिटर्न देने वाला साबित हो सकता है| यही कारण है कि इन दिनों युवाओं का रूझान भी खेती की ओर हो रहा है| बस जरूरत है फसलों के सही चुनाव की| आज इसी तरह की एक फसल की जानकारी दे रहे हैं जिसकी खेती आपको महज 6 महीने में लाखों की इनकम करा सकती है| किसानों के लिए अक्टूबर का महीना लहसुन की खेती के लिए उपयुक्त माना जाता है| इस मौसम में लहसुन का कंद निर्माण बेहतर होता है |

इसकी खेती के लिए दोमट भूमि अच्छी रहती है| लहसुन जितना आपके खाने को लजीज बनाता है उतनी ही इसकी खेती आपकी जेब को भी मजबूत कर सकती है| इसकी खेती पर महज 2-3 हजार रुपए खर्च कर आप इससे 5 से 6 लाख रुपए तक कमा सकते हैं |

अलकथान के किसान लालता प्रसाद ने नवंबर में जब अपने एक बीघा खेत में लहसुन बोया तो उन्हें उम्मीद भी नहीं थी कि इससे उनके बहुत सारे दर्द काफूर हो जाएंगे| महज 2400 रुपये का बीज खरीदा, पदपंप से सिंचाई की और खुद से तैयार की गई जैविक खाद डाली| करीब आठ कुण्ठल से अधिक लहसुन हुआ तो मंडी से करीब 1 लाख रुपये हासिल हुए| इसके अलावा खेत किनारे-किनारे मूली व हरी धनिया से महीनों घर का खर्च चलता रहा| मात्र एक बीघे खेत से छह माह में इतनी नकदी की कमाई ने यहां छोटी जोत के किसानों की आंखें खोल दी |

पीलीभीत में खेती का लंबा क्षेत्र जंगल से लगा हुआ है, जहां नीलगाय से लेकर जंगली सुअर व अन्य जानवर फसलों को नुकसान पहुँचाते हैं| करीब तीन साल से मेवातपुर, वनकटी, सहजना, मरौरी, मोहनपुर, अलकथान, पुरौनिया के सैकड़ों किसानों ने यहां रबी की सीजन में लहसुन की खेती शुरू की| इनमें ज्यादातर किसान छोटी जोत के हैं, जो पदपंप लगाकर खुद सिंचाई भी कर लेते हैं| पहले यही किसान गेहूं-धान की पारंपरिक खेती करते थे, जिसमें जंगली जानवरों के कारण काफी नुकसान होता था |

तीन साल पहले कृषक बंधु कल्याण समिति के सत्येंद्र ¨सह ने इन किसानों को लहसुन की खेती करने की सलाह दी| क्योंकि लहसुन के खेत में नीलगाय नहीं जाते और न ही उसकी पत्तियां खाते हैं| पीलीभीत की मंडी में लहसुन की आवक भी देवचरा व आजाद नगर मंडी से होती थी| जिले में अपने जरूरत भर को भी लहसुन नहीं होता था |

शेयर करें
Avatar
मुकेश श्रीवास्तव रोजगार रथ में संपादक के पद पर कार्यरत है। रोजगार रथ में मुकेश खेल जगत से जुडी खबरे लिखते है। वह कई न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम कर चुके है। मुकेश ने अपनी पढाई NIT कॉलेज से पूरी की है। NIT से पढाई पूरी करने के बाद उन्होंने न्यूज़ वेबसाइट के लिए काम करना शुरू किया।